आठ साल से चल रहे भूमि विवाद ने ली एक जान

318

नुवाओं में जैसवाल परिवार के बीच कृषि योग्य भूमि पर कब्ज़ा के लिए दो पक्ष आमने सामने हो गए।एक पक्ष द्वारा दूसरे पक्ष पर अचानक चाकू से वार कर दिया गया ।जिसमें 42 वर्षीय एक व्यक्ति की मौत हो गई।

घटना के संबंध में बताया जाता है कि नुआंव गांव निवासी दिनेश जायसवाल व प्रेमचंद्र जायसवाल के बीच पूर्व से जमीनी विवाद चल रहा है। इसका मुकदमा भी न्यायालय में है। जमीन खेती योग्य है। उसी जमीन पर कब्जा करने को लेकर शुक्रवार की रात विवाद हुआ। विवाद के दौरान ही मारपीट शुरू हो गई। इसी बीच दिनेश जायसवाल अपने दोनों पुत्र कृष्णा और मुरारी के साथ प्रेमचंद्र जायसवाल व उनके पक्ष के लोगों पर चाकू से हमला कर दिया। जिसमें प्रेमचंद्र जायसवाल व उनके पक्ष के सभी लोग घायल हो गए। ग्रामीणों ने घायलों को निजी अस्पताल पहुंचाया। जहां से गर्रा पीएचसी भेजा गया। पीएचसी में सभी का प्राथमिक उपचार कर रेफर कर दिया गया। इलाज के लिए वाराणसी जाने के दौरान ही प्रेमचंद्र जायसवाल की मौत हो गई। बताया जाता है कि उनके पुत्र अखिलेश की स्थिति गंभीर बनी हुई है। घटना की जानकारी होने पर पहुंचे डीएसपी रघुनाथ सिंह व इंस्पेक्टर विध्याचल प्रसाद ने पूछताछ की तो गिरफ्तार आरोपितों ने घर में चाकू छिपाने की बात कही। तब पुलिस ने कृष्णा को लेकर उसके घर गई और चाकू बरामद की। चाकू पर खून के निशान लगे थे।

 

थाना क्षेत्र के नुआंव गांव में शुक्रवार की रात पट्टीदारों के बीच जमीन पर कब्जा करने को लेकर हुई मारपीट व चाकूबाजी में एक पक्ष के एक व्यक्ति की जहां हत्या कर दी गई वहीं चार लोगों को गंभीर रूप से घायल कर दिया गया। मृतक नुआंव गांव निवासी प्रेमचंद्र जायसवाल 42 वर्ष बताए जाते हैं। जबकि घायलों में अखिलेश जायसवाल, शिवशंकर जायसवाल, अमन जायसवाल व मनीष उर्फ आयरन जायसवाल शामिल हैं। सभी घायलों को रात में ही प्राथमिक उपचार के बाद वाराणसी के ट्रामा सेंटर रेफर कर दिया गया। जहां सभी घायलों का इलाज चल रहा है। उधर सूचना के बाद त्वरित कार्रवाई करते हुए नुआंव थाना पुलिस ने आरोपित दिनेश जायसवाल, कृष्णा और मुरारी को गिरफ्तार कर लिया। साथ ही घटना में प्रयुक्त चाकू को आरोपितों के घर से बरामद किया गया।

घटना स्थल पर सूचना पा कर पहुंचे डीएसपी
गिरफ्तार आरोपित को ले जाती नुवाओं पुलिस