आज हम आपका परिचय इक ऐसे शख़्स से करवाने जा रहे हैं, जिन्होंने बिहार को गौरवान्वित किया है: ये हैं अजीत सिंह ।

1120

आज हम आपका परिचय इक ऐसे शख़्स से करवाने जा रहे हैं, जिन्होंने बिहार को गौरवान्वित किया है:ये हैं अजीत सिंह ।

अजीत सिंह
S / o स्वर्गीय श्री सीताराम सिंह
ग्राम- रामोबारिया
जिला - बक्सर
पुस्तकों की संख्या 18

लंदन की विख्यात संस्था ‘ वर्ल्ड रिकार्ड सर्टिफिकेशन एजेंसी ‘ द्वारा अजीत सिंह उनकी उपलब्धियों के लिये सम्मानित किया गया है। उल्लेखनीय है कि WRCA एक अंतरराष्ट्रीय संस्था है जो शिक्षा एवम संस्कृति के क्षेत्र में अंतरराष्ट्रीय योगदान के लिए सम्मानित करती है। अजीत सिंह ने कम्प्यूटर साइंस की अनेक पुस्तकें लिखी हैं, जिनमें प्रमुख हैं – पाइथन लैंगुएज, 5 G, टेक्नोलॉजी, फाग टेक्नोलॉजी एवम ऑटोमेटा थ्योरी आदि।

चीन के एक प्रतिष्ठित विश्वविद्यालय ने इनकी पुस्तक ‘ इंटरनेट ऑफ थिंग्स ‘ को अपने पाठ्यक्रम में शामिल किया है। इसके अतिरिक्त सऊदी अरब के विश्वविद्यालय के पाठ्यक्रम में भी इनकी पुस्तक को शामिल किया है। अजीत सिंह मूलतः बिहार के बक्सर ज़िले के रामूबरिया ग्राम के रहनेवाले हैं और सम्प्रति पटना वीमेंस कॉलेज में कम्प्यूटर विज्ञान के शिक्षक हैं।

श्री सिंह ने कम्प्यूटर विज्ञान में उभरती हुई नई तकनीकों पर भी कई पुस्तकें लिखी हैं शीघ्र ही कम्प्यूटर विज्ञान के छत्रों के लिए उपलब्ध होंगी। उल्लेखनीय है कि इनकी पुस्तक 5G सिम्प्लीफाइड आनेवाली 5G तकनीक पर आधारित है और इस विषय पर लिखनेवाले वो प्रथम भारतीय लेखक हैं।

अजीत सिंह की उपलब्धियों को देखते हुए उनका चयन ‘ इंटरनेशनल जनरल ऑफ एकेडमिक रिसर्च एंड डेवलपमेंट ‘ नामक संस्था में एडिटर के पद पर हुआ है जो हमारे लिए अत्यंत ही गौरव की बात है।

इस प्रतिष्ठित जनरल के सम्पादक के रूप में कार्य करने की ख़्वाहिश शिक्षा जगत से जुड़ी हुई हस्तियों को हमेशा से होती रही है, ऐसे में इनका चयन सचमुच हम बिहारवासियों के लिए सम्मान की बात है। Bihar Story इनकी उपलब्धियों पर इन्हें बधाई देता है एवम अपनी हार्दिक शुभकामनाएं देता है।