रामविलास का बड़ा ऐलान- चिराग के हर फैसले को मिलेगा उनका समर्थन

258

Patna:केंद्रीय खाद्य मंत्री और लोक जनशक्ति पार्टी (LJP) के संस्‍थापक नेता रामविलास पासवान (Ram Vilas Paswan) तबीयत खराब होने के बाद शुक्रवार को दिल्ली के अस्पताल में भर्ती हो गए हैं। इस दौरान अपने ट्वीट में उन्‍होंने कहा है कि वे चिराग पासवान (Chirag Paswan) के फैसलों के साथ पूरी मजबूती के साथ खड़े हैं। उनके ट्वीट के सियासी मायने निकाले जा रहे हैं। विदित हो कि बिहार में विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Election) को लेकर चिराग पासवान (Chirag Paswan) व मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) के बीच की कड़वाहट खुलकर सामने आ चुकी है। कयास लगाए जा रहे हैं कि चिराग कोई बड़ा सियासी फैसला ले सकते हैं।

बीमार होने के बावजूद अभी तक नहीं गए थे अस्‍पताल

अपने ट्वीट में रामविलास पासवान ने लिखा है कि कोरोना संकट (CoronaVirus Crisis) के समय खाद्य मंत्री के रूप में वे निरंतर अपनी सेवा देश को दे रहे हैं। उन्‍होंने हर संभव प्रयास किया कि सभी जगह खाद्य सामग्री समय पर पहुंच सके। इसी दौरान तबीयत खराब होने लगी, लेकिन काम में कोई ढि़लाई ना हो, इस कारण अस्पताल नहीं गए।

अब करा रहे इलाज, बताया- चिराग कर रहे सेवा

इसके बाद उन्‍होंने आगे लिखा कि उनकी खराब तबीयत का एहसास चिराग को हुआ। उसके कहने पर वे अस्पताल गए और अपना इलाज करवाने लगे। खुशी है कि इस समय उनका बेटा चिराग उनके साथ है और हर संभव सेवा कर रहा है। साथ-साथ वह पार्टी के प्रति भी अपनी जिम्मेदारियों को बखूबी निभा रहा है।

चिराग के हर फैसले में मजबूती से देंगे साथ

राम विलास पासवान ने आगे लिखा है कि उन्‍हें विश्वास है कि अपनी युवा सोच से चिराग पार्टी व बिहार को नई ऊंचाइयों तक ले जाएगा। वे चिराग के हर फैसले के साथ मजबूती से खड़े हैं। आशा है कि पूर्ण स्वस्थ होकर जल्द ही वे अपनों के बीच आ जाएंगे।

पासवान के ट्वीट के निकाले जा रहे सियासी अर्थ

राम विलास पासवान के ये ट्वीट बिहार में विधानसभा चुनाव की राजनीतिक सरगर्मी के बीच आए हैं। राष्‍ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन में सीटों की मांग को लेकर एलजेपी अध्‍यक्ष चिराग पासवान नाराज चल रहे हैं। पार्टी की कोर कमेटी ने उन्‍हें फैसला लेने के लिए अधिकृत किया है। ऐसे में अगर वे कोई बड़ा फैसला लेते हैं तो रामविलास पासवान उनके साथ खड़े हैं।