CM नीतीश पर चिराग ने फिर से बोला हमला, PM मोदी को लिखा पत्र- सरकार से खुश नहीं जनता

351

Patna: बिहार के सत्‍ताधारी राष्‍ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) में जनता दल यूनाइटेड (JDU) व लोक जनशक्ति पार्टी (LJP) की लड़ाई अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Natendra Modi) की अदालत में पहुंच गई है। विधानसभा चुनाव से पहले पाला बदलने के साथ ही अब चिट्ठी-चिट्ठी का दौर भी शुरू हो गया है। रघुवंश प्रसाद सिंह (Raghuvansh Prasad Singh) के बाद अब एलजेपी अध्‍यक्ष चिराग पासवान (Chirag Paswan) की चिट्ठी की चर्चा जोरों पर है। चिराग ने सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) को फिर घेरा है। कहा है कि बिहार में लोग राज्य सरकार के कामकाज से खुश नहीं हैं। सरकार से लोगों की इस नाराजगी की वजह से विधानसभा चुनाव के परिणाम प्रभावित हो सकते हैैं।

दो दिन पहले बोले थे, सीएम से नहीं कोई नाराजगी

विदित हो कि दो दिन पहले जब भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा (JP Nadda) और बिहार प्रभारी भूपेंद्र यादव (Bjupendra Yadav) ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) से भेंट की थी, तब उनकी मुलाकात के तुरंत बाद चिराग ने यह कहा था कि उन्‍हें मुख्यमंत्री से कोई नाराजगी नहीं है। वे तो केवल लोगों की बात उन तक पहुंचा रहे हैं। चिराग पासवान ने प्रधानमंत्री को जो पत्र लिखा है, उसे उन्होंने सार्वजनिक नहीं किया है।

कोरोना को लेकर भी घेरा

चिराग ने अपने पत्र में कोविड-19 (COBID-19) की बिहार में क्या स्थिति है इसका भी जिक्र किया है। आंकड़े को लेकर सरकार पर संशय की बात भी कही है। एलजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने वैसे यह भी स्पष्ट किया है कि पार्टी संसदीय बोर्ड की बैठक में उन्हें जो जानकारी दी गयी है, उसके आधार पर वे यह पत्र लिख रहे हैैं। बिहार में अफसरों के कामकाज के रवैये पर भी उन्होंने टिप्पणी की है।

चिराग के हर फैसले के साथः रामविलास

गौरतलब हो कि दो दिन पहले एलजेपी अध्यक्ष चिराग पासवान ने पीएम को चिट्ठी लिखी थी। इसमें उन्होंने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से किसी भी तरह की नाराजगी न होने की बात कही थी। इसपर केंद्रीय मंत्री व एलेजपी के संस्थापक रामविलास पासवान (Ramvilas Paswan) ने चिराग के हर फैसले के साथ मजबूती से खड़े होने की बात कही थी।