CM नीतीश ने दिया आदेश, कहा- बिहार में हर दिन 15 हजार सैंपल जांच की करें व्यवस्था

160

Patna: मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि राज्य के सभी लोगों की सुरक्षा करना हमारा दायित्व है। भविष्य में कोरोना संक्रमण बढ़ने की आशंका को देखते हुए सभी तैयारियां पहले ही कर ली जाएं।

संक्रमितों की पहचान के लिए अधिक से अधिक जांच कराई जाए। टेस्टिंग कैपेसिटी को जितनी जल्दी हो सके प्रतिदिन 15 हजार तक पहुंचाया जाए। मुख्यमंत्री ने सोमवार को संक्रमण के प्रभावी नियंत्रण और रोकथाम के लिए स्वास्थ्य विभाग की तैयारियों की समीक्षा की। इस दौरान स्वास्थ्य विभाग ने बताया कि बिहार में रोज 10 हजार टेस्टिंग का लक्ष्य प्राप्त कर लिया गया है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए बड़े पैमाने पर माइकिंग के साथ अन्य प्रचार माध्यमों से जागरूकता की आवश्यकता है। लोगों को बताना है कि कोरोना का अब तक इलाज नहीं है। इसलिए मुंह और नाक को ढंकने के लिए मास्क का उपयोग करें। सोशल डिस्टेंसिंग का पालन जरूर करें। बचाव का यही प्रभावी उपाय है। मुख्यमंत्री ने कहा कि पूल टेस्टिंग में गाइडलाइन का पालन करें और यथासंभव कम लोगों का ही सैंपल लें।