अगस्त तक होगा ऑनलाइन दाखिला, सितंबर से सभी कॉलेजों में रेगुलर पढ़ाई शुरू

170

Patna:कोरोना संकट में विद्यार्थियों की कम से कम पढ़ाई बाधित हो इसके लिए राज्यपाल फागू चौहान ने आदेश दिया है. यूजीसी और सरकार के निर्देश के अनुसार विवि परीक्षा आयोजित कर कम से कम समय में रिजल्ट प्रकाशित करें, ताकि सेशन समय पर पूरा हो. विवि सहायक प्रोफेसर बहाली के लिए रेशनेलाइजेशन के अनुसार रोस्टर क्लियर करा कर जल्द रिक्ति शिक्षा विभाग को भेज दें. मंगलवार को राज्यपाल ने केएसडीएस, एलएनएमयू व बीएन मंडल विवि की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से समीक्षा की.

राज्यपाल ने विवि से कहा कि छात्रों का ऑनलाइन नामांकन अगस्त तक पूरा करा कर लें, ताकि सितंबर से सभी विवि व कॉलेजों में रेगुलर पढ़ाई शुरू हो जाए. यूजीसी के अनुसार परीक्षा की अवधि 3 से घटा कर 2 घंटे किए जा सकते हैं. इसमें प्रश्न संख्या भी घटाए जा सकते हैं. परीक्षा पैटर्न में बदलाव की जा सकता है. विवि के कुलपति ने बताया कि विवि व कॉलेजों के विभागाध्यक्ष के रिपोर्ट के अनुसार विद्यार्थियों को ऑनलाइन पाठ्य सामग्री भेज दी गई है.

राज्यपाल ने कुलपतियों को निर्देश दिया कि नैक एक्रीडिएशन की तैयारी पूरी कर लें. जिस शिक्षण संस्थान का नैक एक्रीडिएशन है, उसकी और बेहतरी के प्रयास करें. समीक्षा बैठक में राज्यपाल के आराधन सचिव चैतन्य प्रसाद, पूर्णिया से पूर्णिया विवि के कुलपति प्रो. राजेश सिंह (केएसडीएस व एलएनएमयू के कुलपति कभी प्रभार में हैं) मधेपुरा से बीएन मंडल विवि के प्रभारी कुलपति प्रो. ज्ञानंजय द्विवेदी मौजूद थे.

राज्य में उच्चतर शिक्षा सर्वे इकाई का गठन हाेगा

राज्य स्तर पर उच्चतर शिक्षा सर्वे इकाई का गठन किया गया है. इसके अध्यक्ष शिक्षा विभाग के विशेष सचिव सतीश चंद्र झा होंगे. सर्वे निदेशक उच्च शिक्षा निदेशक डॉ. रेखा कुमारी होंगी. राज्य नोडल पदाधिकारी उप निदेशक सांख्यकी रामानंद पोद्दार, लेखापाल सांख्यकी पर्यवेक्षक अरुण कुमार सिन्हा व कंप्यूटर ऑपरेटर कुमार राजेश होंगे. केंद्र ने उच्चतर शिक्षा विभाग के उच्चतर शिक्षा सांख्यकी व सार्वजनिक सूचना प्रणाली स्कीम के तहत इसका गठन किया गया है.