कांग्रेस की चुनाव प्रभारी पहुंची कैमूर, स्थानीय नेताओं ने पेश की दावेदारी

136

Desk: बिहार विधान सभा चुनाव की तिथि जैसे जैसे निकट आ रही है वैसे ही सभी पार्टियों के शीर्षस्थ नेताओ का दौरा शुरू हो चुका है।साथ ही स्थानीय नेताओं द्वारा विधानसभा चुनाव लड़ने की दावेदारी भी पेश की जाने लगी है।सबसे अधिक लोगो द्वारा चुनाव लड़ने की दावेदारी कांग्रेस पार्टी में देखने को मिल रही है। कांग्रेस में भभुआ विधान सभा क्षेत्र से सम्भावित प्रत्याशियों में दो पूर्व विधायक पुत्र भी शामिल है।

पूर्व मंत्री कांग्रेस पार्टी की चुनाव प्रभारी ज्योति जी के सामने कई लोगो ने अपनी उम्मीदवारी भी पेश की इस बीच सभी के द्वारा जीत के दावे के साथ जम कर नारे बाजे भी हुई। चुनाव प्रभारी के सामने कांग्रेस नेता अनिल तिवारी भी अपने भारी समर्थकों के साथ कांग्रेस कार्यालय पहुंचे।और अपनी दावेदारी पेश की। इस अवसर पर चुनाव प्रभारी ने स्पष्ट रूप से कहा कि स्थानीय ही लोगो को टिकट दिया जाएगा।जो पार्टी के सिम्बल को आसानी से जीता सकें और विधान सभा मे स्थानीय समस्याओं को मजबूती से उठा सके।

उन्होंने साफ तौर पर कहा कि ज़मीन से जुड़े नेताओ को ही प्राथमिकता दी जाएगी। इस अवसर पर ज्योति जी ने कार्यकर्ताओं को चुनावी तैयारी और संभावित घोषित उम्मीदवारों को जिताने के लिए जी जान से जुटने का आह्वान किया और केंद्र सरकार के साथ साथ राज्य सरकार पर जम कर कटाक्ष किया। उन्होंने कहा कि बीजेपी जेडीयू की मिलीभगत वाली सरकार के खिलाफ हमारी पार्टी कैमूर में पूरी एकता के साथ ही लड़ेगी।

उन्होंने अपने वक्तव्य में सीएम नीतीश कुमार की सरकार के ऊपर कई आरोप भी लगाए। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार ने बिहार के युवाओं के लिए कहीं नहीं सोचा। यह सरकार जो है जाति वादी की सरकार है, जो कि ऐसा सरकार बिहार के लोगों को नहीं चाहिए।

इतना ही नहीं बीजेपी पर भी निशाना साधते हुए कहा की जितना मोदी सरकार बोलती है उतना करती नहीं केवल भाषण बाजी ही करती है।कथनी और करनी में साफ अंतर झलकता है। वही सुशासन बाबू की सरकार पर भी जमकर निशाना साधा।

रिपोर्ट – अरशद रज़ा