पटना में कोरोना का कोहराम जारी, मिले 561 नए मरीज, लॉकडाउन का भी नहीं पड़ा कोई असर

61

Patna: बिहार में कोरोना (Corona) का कहर बनकर टूट पड़ा है. आलम यह है कि हर दिन 1000 से ऊपर कोविड-19 के पॉजिटिव मरीज (Covid-19 positive patients) सामने आ रहे हैं. शुक्रवार को एक बार फिर अट्ठारह सौ 20 मामले सामने आने के साथ ही राज्य में संक्रमितों संख्या बढ़कर 33511 हो गई. इनमें 1083 केस 22 जुलाई के हैं जबकि 737 केस 23 जुलाई के जो आज सिस्टम में प्रदर्शित किए गए.

राजधानी पटना में कोरोना का कहर जारी है. यहां पर कोरोना कंट्रोल नहीं हो रहा है.  आज फिर कोरोना के 561 नए मरीज मिले हैं. पटना में कोरोना मरीजों का आंकड़ा 4786 पर पहुंच गया है.  2273 कोरोना के एक्टिव केस है. 35  लोगों की मौत कोरोना से सिर्फ पटना जिले में हो चुकी है.

अगर बीते 8 जुलाई से बिहार में मिल रहे संक्रमितों का औसत निकाला जाए तो हर दिन 1200 से अधिक मरीज मिल रहे हैं. वहीं राजधानी पटना में भी स्थिति बुरी होती जा रही है. 23 जुलाई के टेस्ट किए गए आंकड़ों पर गौर करें तो इनमें सर्वाधिक पटना के 265 पॉजिटिव मरीज मिले हैं. वहीं 22 जुलाई को हुई जांच रिपोर्ट के आधार पर 296 मामले सामने आए. यानी एक दिन में ही पटना में 561 कोरोना केस सामने आ गए. इसके साथ ही पटना में कुल संक्रमितों का आंकड़ा 5347 पहुंच गया है.

23 जुलाई की जांच रिपोर्ट के आधार पर कोरोना संक्रमितों के जिलावार आंकड़ों पर नजर डालें तो मुजफ्फरपुर में 88,  भागलपुर में 56, ईस्ट चंपारण में 55,  गया में 51, जहानाबाद में 33,  अरवल में 20,  नालंदा में 20  मरीज सामने आए.  इसके अतिरिक्त खगड़िया में 17, सीतामढ़ी में 16, रोहतास में 30,  बेगूसराय 13, भोजपुर में चार,  दरभंगा में तीन,  गोपालगंज में एक,  लखीसराय में 11,  मधेपुरा में 10,  मधुबनी में दो,  मुंगेर में चार, नवादा में दो, पूर्णिया में छह, समस्तीपुर में एक,  सारण में एक,  शेखपुरा में 4,  शिवहर में 7,  वैशाली में दो और वेस्ट चंपारण में 11 मामले सामने आए हैं.