ISBT बस खुलने में देरी हाे ताे यात्री मल्टीप्लेक्स में देख पाएंगे सिनेमा

263

Patna:अब बस पकड़ने के दौरान धक्का-मुक्की नहीं करनी पड़ेगी। प्लेटफार्म पर बस खड़ी रहेगी और उसमें जाकर आसानी से यात्री बैठ सकेंगे। अगर बस में देरी है, ताे मल्टीप्लेक्स में सिनेमा भी देख सकेंगे। माॅल में खरीदारी कर सकेंगे। यह सब सुविधा मिलेगी राजधानी में बन रहे राजधानी में बन रहे इंटर स्टेट बस टर्मिनल (आईएसबीटी) पर। बैरिया में 25 एकड़ में 302 करोड़ की लागत से बन रहे आईएसबीटी का निर्माण कार्य अंतिम चरण में है। विधानसभा चुनाव की अधिसूचना जारी होने से पहले इसका उद्घाटन हाेने की संभावना है। इसके बाद मीठापुर से बस स्टैंड को यहां शिफ्ट किया जाएगा। आईएसबीटी के निर्माण की योजना पर 2017 में कार्य शुरू किया गया था। दो साल में ही बनना था, लेकिन इसमें देरी हुई है। इसमें चार ब्लॉक हैं। ए, बी व सी ब्लॉक बनकर तैयार हो गए हैं। प्लेटफॉर्म भी तैयार हाे गया है। आईएसबीटी को मेन रोड से कनेक्ट करने की योजना पर कार्य पूरा कर लिया गया है। चारों ब्लॉक पर सोलर पैनल लगाया जाएगा। इससे बिजली की परेशानी नहीं रहेगी।

मॉल व मल्टीप्लेक्स का निर्माण कार्य जारी, मीठापुर से किया जाएगा शिफ्ट आईएसबीटी के डी ब्लॉक को व्यावसायिक उपयोग के लिए तैयार किया जा रहा है। दस मंजिला इस ब्लॉक में मॉल व मल्टीप्लेक्स की सुविधा यात्रियों को दी जाएगी। इससे बस पड़ाव में आने वाले यात्रियों को खरीदारी करने के लिए शहर में जाने की जरूरत नहीं होगी। इसके अलावा बस मिलने में देरी होने पर उनके मनोरंजन के भी साधन मौजूद रहेंगे। साथ ही, होटल, कैफेटेरिया, रेस्ट हाउस, रेस्टोरेंट व फूड कोर्ट का भी निर्माण किया जाएगा।

कार पार्किंग की रहेगी विशेष सुविधा आईएसबीटी में यात्रियों की सुविधाओं पर विशेष जोर दिया गया है। अभी मीठापुर बस पड़ाव में जाने पर लोगों को अपनी गाड़ी सड़क पर ही खड़ी करनी पड़ती है। यात्रियों को बस पर चढ़ने से पहले धक्का-मुक्की का सामना करना पड़ता है। अब इस प्रकार की समस्या से मुक्ति मिलेगी। कार व छोटी गाड़ियों से आने वाले यात्रियों के लिए एलीवेटेड रोड बनाया गया है। इसके अलावा पेडेस्ट्रियल पाथवे, पेडेस्ट्रियल सबवे एलिवेटेड पेडेस्ट्रियल ब्रिज की भी सुविधा मिलेगी। इससे यात्रियों को एक अलग प्रकार का अहसास बस पड़ाव पर होगा।

एक साथ होगी 211 बसों के ठहराव की व्यवस्था आईएसबीटी का निर्माण बसों के ठहराव से अधिक परिचालन की दृष्टि से किया गया है। टर्मिनल में एक साथ 211 बसों के ठहराव की व्यवस्था की गई है। बाकी बसें आगमन व प्रस्थान प्लेटफॉर्म पर क्रम के हिसाब से जाती रहेंगी। यहां पर ड्राइवर व बसों के स्टॉफ के रुकने के लिए डोरमेट्री का भी निर्माण किया गया है। वहां सभी आधुनिक सुविधाएं दी गई हैं। आईएसबीटी के निकट ही मेट्रो स्टैंड का भी निर्माण किया जाना है। इससे आईएसबीटी आने के लिए लोगों को अधिक परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा।