एक बार फिर साइकिल गर्ल ज्योति ने जीता समाज का दिल, पुरस्कार में मिली राशि से कराई बुआ की शादी

184

Patna: एक बार फिर बिहार की साइकिल गर्ल ज्योति कुमारी ने परिवार और समाज का दिल जीत लिया है. दिल्ली से साइकिल से पापा को लाने पर देश और दुनिया में सुर्खियों में आई ज्योति ने पुरस्कार में मिली राशि से अपनी गरीब बुआ की शादी कर दी. उन्होंने शनिवार को दरभंगा के श्यामा माई मंदिर में शादी का आयोजन किया.

बताया जाता है कि ज्योति के दादा दो भाई थे. दोनों दादा कारी पासवान और शिवनंदन पासवान का निधन हाे चुका है. चचेरी दादी विधवा लीला देवी लकवा ग्रस्त हैं. ज्योति ने अपनी चचेरी दादी की हालत देख उनकी बेटी कविता कुमारी की शादी कराने का फैसला लिया. यह बात उसने अपने पिता और माता से कही. शनिवार की रात कविता की शादी समस्तीपुर जिले के खानपुर थाना क्षेत्र के नाथुद्वार गांव के शिबू पासवान के पुत्र अरविंद पासवान के साथ श्यामा मंदिर में हुई.

लॉकडाउन में बीमार पिता को साइकिल पर बैठाकर हरियाणा के गुरुग्राम से 1200 किलोमीटर दूर अपने घर दरभंगा पहुंचने वाली बिहार की बेटी ज्योति कुमारी की तारीफ पूरे देश में हो रही है. ज्योति ने सात दिन में गुरुग्राम से दरभंगा तक का सफर तय किया था. अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की बेटी इवांका ट्रंप ने ट्वीट कर ज्योति कुमारी की सराहना की थी. उन्होंने ट्विटर पर ज्योति कुमारी की खबर को शेयर किया था और भारतीयों की सहनशीलता को सराहा था.