लालू यादव कोरोना नेगेटिव, लेकिन 3 सेवकों की रिपोर्ट पॉजिटिव; होगी दोबारा जांच

211
Patna: कोरोना जांच में राजद सुप्रीमो लालू यादव निगेटिव मिलने के बाद फिलहाल इस जानलेवा वायरस से दूर हैं, लेकिन वे कब तक संक्रमण से सुरक्षित रहेंगे इसका पता अगले दो-तीन दिनों में चलेगा. जिस तरह लालू के इर्द-गिर्द रहने वाले लोगों को जांच में कोरोना पॉजिटिव करार दिया गया है, उससे एक बार फिर लालू को लेकर परिजनों और शुभचिंतकों की आशंकाएं बढ़ गई हैं. रविवार को लालू के साथ 24 घंटे रहने वाले 3 सेवकों की पहचान कोरोना पॉजिटिव के रूप में की गई है. साथ ही उनके कमरे की साफ-सफाई करने वाली मेड भी कोरोना संक्रमित मिली है. ऐसे में 12 गंभीर बीमारियों से ग्रस्‍त लालू के लिए खतरा अभी टला नहीं है. रांची के रिम्स अस्‍पताल में इलाजरत बिहार के पूर्व मुख्‍यमंत्री और राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव फिलहाल कोरोना के संक्रमण से दूर हैं, लेकिन कितनी दूर हैं इसका पता तीन दिनों बाद ही चल सकेगा. रविवार को उनकी कोविड रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद उनके परिजनो, समर्थकों व शुभचिंतकों ने राहत की सांस ली, लेकिन देर रात उनके तीनों सेवादारों की रिपोर्ट पॉजिटिव आने से एक बार फिर सबकी चिंता बढ़ गई. लगातार सेवादारों के संपर्क में रहने के कारण लालू यादव पर अब भी संक्रमण का खतरा मंडरा रहा है. जांच में कोरोना पॉजिटिव मिले इन्‍हीं तीन सेवकों पर पेइंग वार्ड में भर्ती लालू को संभालने की जिम्‍मेवारी है. रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद भी लालू सुरक्षित नहीं, सेवादारों से संक्रमण का खतरा लालू का भोजन पकाने से लेकर खाना खिलाने तक जिम्मा इन्हीं सेवादारों पर हैं. दरअसल, कोरोना के बढ़ते संक्रमण के बीच एहतियात के तौर पर लालू का भी शनिवार को कोविड जांच के लिए सैंपल लिया गया था. उनकी जांच रिपोर्ट रविवार को निगेटिव आई. उनके साथ उनके तीन सेवादारों का भी सैंपल जांच के लिए लिया गया था. इन तीनों सेवादारों की रिपोर्ट पॉजिटिव है. अब तीन दिन बाद लालू की भी दोबारा जांच होगी. लालू के 3 सेवक पॉजिटिव, इन पर है लालू को संभालने का जिम्मा लालू के जिन सेवादारों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है, वे तीन दिन पहले तक बाहर कई लोगों के संपर्क में रहे थे. अब सभी को ट्रेस करते हुए उनके सैंपल की जांच की जाएगी. उधर, रविवार को रिम्स के कैंटीन के भी तीन कर्मचारी पॉजिटिव मिले हैैं. इसी कैंटीन के ऊपरी तल्ले में लालू प्रसाद भी इलाजरत हैं. कई नर्से व पुलिसकर्मी भी कैंटीन में खाना खाने के बाद लालू प्रसाद से मुलाकात करते थे. बताया जाता है कि कैंटीन के सफाईकर्मियों का लालू के वार्ड में आना-जाना रहा है. माना जा रहा है कि इन्हीं के संपर्क में आकर लालू के सेवादार भी संक्रमित हुए होंगे रिम्स में सर्वाधिक संक्रमित, कैंटीन तक पहुंचा संक्रमण राजधानी में कोरोना के बढ़ते मामले के बीच सर्वाधिक पॉजिटिव मामले राज्य के सबसे बड़े अस्पताल रिम्स से मिल रहे है. यहां के दो दर्जन से अधिक चिकित्सक, 30 के करीब नर्से, अन्य कर्मचारियों और कई मरीजों की रिपोर्ट पॉजिटिव आ चुकी है. रविवार को भी रिम्स के ही पेइंग वार्ड के नीचे कैंटीन के तीन कर्मचारियों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है. इसमें एक पुरुष व दो महिलाएं शामिल हैं. अब कैंटीन के कर्मचारी की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद अब यहां के डॉक्टरों, नर्सो और अस्पताल कॢमयों पर फिर संक्रमण का खतरा मंडराने लगा है. कोविड में सेवा दे रहे डॉक्टर से लेकर हॉस्पिटल स्टाफ तक का खाना यहीं बनता है. रांची के रिम्स में इलाजरत हैं राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद फिलहाल कोरोना के संक्रमण से दूर है. लेकिन कितना दूर है इसका पता दोबारा जांच में ही चल सकेगा. खुद की कोविड रिपोर्ट नेगेटिव आने के बाद राजद सुप्रीमो को थोड़ी राहत जरूर मिली, लेकिन एक-एक कर उनके 3 सेवकों की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आने पर एक बार फिर से उनकी परेशानी बढ़ गई है. जल्‍द ही लालू यादव की दोबारा कोरोना जांच होगी. लालू के अपने तीनों सेवादारों की कोविड जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आने की खबर ने उनकी परेशानी और बढ़ा दी है. अब तीन दिन बाद दोबारा लिया जाएगा लालू का सैंपल दरअसल, कोरोना के बढ़ते संक्रमण के बीच एहतियात के तौर पर राजद सुप्रीमो का भी शनिवार को कोविड जांच के लिए सैंपल लिया गया था. उनकी जांच रिपोर्ट रविवार को नेगेटिव आयी है. जबकि उनके साथ उनके तीन सेवादार का भी सैंपल जांच के लिए लिया गया था, जिसमें से तीनों की रिपोर्ट पॉजिटिव आयी है. वलालू प्रसाद की बिगड़ती तबीयत के बीच कोरोना संक्रमण के खतरे की बात से उनके चाहने वाले काफी परेशान थे, 3 सेवादारों के पॉजिटिव आने की खबर से सभी और परेशान हो चुके हैं. कोरोना संक्रमित सेवादारों को कोविड वार्ड में किया शिफ्ट इधर, रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद तीनों संक्रमित सेवादारों को कोविड वार्ड में शिफ्ट कर दिया गया है. वहीं सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार वह तीन दिन पहले बाहर काफी लोगों के संपर्क में रहा था. सभी को ट्रेस करते हुए उनके सैंपल की जांच की जाएगी. वहीं इन तीन दिनों में वह लालू प्रसाद के भी संपर्क में रहा था. लालू प्रसाद के खाना पकाने से लेकर खिलाने तक जिम्मा इन्हीं को है. ऐसे में रिपोर्ट पॉजिटिव आने से अभी भी उनमें संक्रमण का खतरा मंडरा रहा है. वहीं मिली जानकारी के अनुसार, रिम्स कैंटीन की दो महिला सफाई कर्मचारियों में एक संक्रमित सफाई कर्मचारी ही लालू प्रसाद के वार्ड की भी साफ सफाई करती थी. रविवार को ही उसका भी रिपोर्ट पॉजिटिव आया है. तीसरे या पांचवे दिन लालू प्रसाद का दोबारा लिया जाएगा सैंपल लालू प्रसाद के 3 सेवादारों के संक्रमित होने के बाद कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग के आधार पर तीसरे या पांचवे दिन उनका दोबारा सैंपल जांच के लिए लिया जाएगा. बताते चले कि उनकी रिपोर्ट नेगेटिव आने के बाद वे पूरी तरह सुरक्षित थे. उनमें कोरोना का संक्रमण नहीं था. अब एक बार फिर उनके साथ उनके शुभचिंतकों की चिंता और बढ़ गई है.