समधी के साथ लालू यादव ने बनाई चुनावी रणनीति! बोले- लालू रिम्‍स में, बेटा चुनाव मैदान में; चिंता तो होगी ही

428

Patna:रिम्स (RIMS) में इलाजरत राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) से शनिवार को उनके समधी जितेन्द्र यादव (Jitendra Yadav) ने केली बंगला में मुलाकात की. 5 घंटे से ज्यादा चली मुलाकात में लालू प्रसाद ने न सिर्फ अपने दिल की बातें समधी के साथ साझा कीं, बल्कि बिहार विधानसभा चुनाव से लेकर रघुवंश प्रसाद सिंह के निधन और केंद्र सरकार की किसान नीति सरीखे मुद्दे पर भी चर्चा की.

अब कहा जा रहा है कि लालू प्रसाद के समधी जितेंद्र यादव ने उनसे 5 घंटे से ज्यादा समय तक मुलाकात (Meeting) की है. वे करीब 6 बजे केली बंगला से बाहर निकले थे. जेल मैन्युअल के अनुसार शाम 5 बजे तक ही मुलाकात का समय होता है. फिर भी 6 बजे तक मुलाकात के सवाल पर लालू प्रसाद के समधी ने चुप्पी साध ली.

लालू प्रसाद से मुलाकात के बाद समधी जितेंद्र यादव ने कहा कि लालू प्रसाद का स्वास्थ अभी सामान्य है. डायबिटीज के कारण थोड़ी बहुत परेशानी अभी भी हो रही है. लालू प्रसाद के समधी के अनुसार, राजनीति के सहयोगी और पुराने दोस्त पूर्व केंद्रीय मंत्री रघुवंश प्रसाद सिंह के निधन से लालू प्रसाद काफी मर्माहत हैं .और अभी भी रघुवंश बाबू को पुरानी यादों का जिक्र करते हुए याद करते रहते हैं .

लालू प्रसाद को बिहार चुनाव की चिंता तो तेजस्वी पर भरोसा भीलालू प्रसाद के समधी जितेंद्र यादव ने कहा कि लालू प्रसाद से काफी दिनों बाद हुई मुलाकात में उनसे पारिवारिक बातों के साथ-साथ बिहार में होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर भी चर्चा हुई. जितेंद्र यादव यादव ने बताया कि लालू प्रसाद को बिहार में होने वाले चुनाव को लेकर थोड़ी बहुत चिंता तो जरूर सता रही है. लेकिन उन्हें अपने बेटे तेजस्वी यादव पर पूरा भरोसा भी है. समधी के अनुसार, लालू प्रसाद इस बात को लेकर निश्चिंत है कि इस बार जनता उनके स्लोगन 2020- नीतीश कुमार फिनिश के नारे को पूरा करने के लिए वोट करेगी और बिहार में वह निश्चिंत हैं कि आगामी विधानसभा चुनाव में जनता आरजेडी के नेतृत्व में महागठबंधन की सरकार बनाएगी.