सुशांत मामले में यशवंत सिन्हा ने कही बड़ी बात, बोला- कंगना इतनी बड़ी हस्‍ती नहीं कि वे बयान दें, राजनीति कर रही BJP

146

Patna:यूनाइटेड डेमोक्रेटिक अलायंस (यूडीए) के संयोजक और पूर्व वित्त मंत्री यशवंत सिन्हा (Yashwant Sinha) ने सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में भारतीय जनता पार्टी पर लाश पर राजनीति करने का आरोप लगाया है। उन्‍होंने अभिनेत्री कंगना रनोट (Kangana Ranaut) के मामले में टिप्‍पणी करने से इनकार कर दिया। कहा कि कंगना इतनी बड़ी हस्ती नहीं हैं कि यशवंत सिन्हा जैसा व्यक्ति कोई टिप्पणी करे। उन्‍होंने बिहार के हालात व यहां की कानून-व्‍यवस्‍था को लेकर मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार को भी घेरा। कहा कि यहां तो 30 साल से लॉकडाउन लगा हुआ है।

विदित हो कि अभिनेत्री कंगना रनोट के मुंबई के पाली हिल रोड पर स्थित मणिकर्णिका फिल्म्स ऑफिस के एक हिस्से को बृहन्मुंबई महानगर पालिका (BMC) ने अवैध निर्माण बताते हुए ध्‍वस्‍त कर दिया है। इसे सुशांत सिंह राजपूत की मौत मामले में महाराष्‍ट्र सरकार के खिलाफ उनके बयानों से जोड़कर बदले की कार्रवाई बताया जा रहा है। इससे देशभर में हंगामा मचा है। बीएमसी की कार्रवाई के बाद कंगना अब सीधे शिवसेना और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे पर निशाना साध रही हैं। इस बीच कंगना के पक्ष में उनके गृह राज्‍य हिमाचल प्रदेश की भारतीय जनता पार्टी सरकार खुलकर मैदान में आ चुकी है। केंद्र सरकार ने भी कंगना को वाई श्रेणी की सुरक्षा दी है। इस विवाद को लेकर मीडिया के सवाल पर यशवंत सिन्‍हा बचते नजर आए।

कंगना विवाद पर बोलने से इनकार करने वाले यशवंत सिन्हा ने सुशांत सिंह राजपूत की मौत पर जरूर बयान दिया। उन्‍होंने कहा कि सुशांत की मौत से सभी स्तब्ध हैं। मामले की जांच चल रही है, जिसमें दूध का दूध और पानी का पानी हो जाएगा। दुख की बात यह है कि इस मामले में लाश पर राजनीति हो रही है। उन्‍होंने बीजेपी द्वारा सुशांत सिंह राजपूत मामले में पोस्टर लगाने को गलत बताया।

नीतीश कुमार पर हमलावर यशवंत सिन्हा ने कहा कि बिहार में कानून का राज खत्म हो चुका है। यहां शिक्षा, स्वास्थ्य और रोजगार की कमी है। चुनाव में आपराधिक छवि और भ्रष्‍टाचारी व्यक्ति को छोड़ कर हर किसी का उनकी पार्टी में स्वागत है। यशवंत सिन्‍हा ने कांग्रेस पर पिछलग्‍गू होने का आरोप लगात हुए कहा कि अगर वह भी उनके साथ आए तो और बेहतर होगा।