बिहार के इस स्‍टेशन से सरकार कमाती हैं एक करोड़ की आय, फ‍िर भी सुविधाओं के बदले दिखाया जाता अंगूठा

101

Patna: सुगौली-नरकटियागंज रेलखंड में चनपटिया रेलवे स्टेशन की गिनती प्रमुख स्टेशनों में की जाती है। यहां से प्रतिदिन सैकड़ों यात्री ट्रेन से सफर करते हैं। इस स्टेशन पर सत्याग्रह एक्सप्रेस, जननायक एक्सप्रेस, बापूधाम एक्सप्रेस सहित कई पैसेंजर और द्रुतगामी ट्रेनों का ठहराव होता है। जिस पर बैठ यात्री देश के कोने कोने में जाते हैं। लेकिन इस रेलवे स्टेशन पर सुविधाओं का अभाव है। जनप्रतिनिधियों के तमाम वादे, आम लोगों के धरना प्रदर्शन के बाद भी प्लेटफॉर्म का उच्चीकरण नहीं हो सका है। जिस कारण यहां ट्रेन पर चढ़ने और उतरने के दौरान दुर्घटना की संभावना बनी रहती है। खासकर महिलाओं और बुजुर्गों को खासी परेशानी का सामना करना पड़ता है।

चनपटिया प्रखंड मुख्यालय हैं। यहां के धान और चूड़ा की मंडी देश में सुविख्यात है। कई सरकारी बैंक,एफसीआई, एसएफसी, नगर पंचायत, मवेशी अस्पताल, पीएचसी, विद्युत कार्यालय सहित कई सरकारी कार्यालय चनपटिया में है। इस कारण रेलवे स्टेशन पर लोगों की भीड़ हमेशा लगी रहती है।

रेलवे स्टेशन से सरकार को मिलती है एक करोड़ रुपये

चनपटिया रेलवे स्टेशन से सरकार को प्रतिवर्ष करीब एक करोड़ रुपये की आय होती है। रेलवे स्टेशन पर आरक्षण टिकट काउंटर की भी व्यवस्था है। सरकार को प्रतिवर्ष करोड़ों रुपये देने वाले रेलवे स्टेशन की दुर्दशा लोगों को साल रही है। चनपटिया निवासी राजकिशोर प्रसाद, नेहाल अहमद, कम्युनिस्ट नेता ओमप्रकाश क्रांति, संजय पटेल, अजय साह, विश्वमोहन मिश्र ने कहा कि स्टेशन का उच्चीकरण नहीं होने के कारण काफी परेशानी होती है। किसी बुजुर्ग को ट्रेन पर बैठाना होता है तो चनपटिया की बजाय आसपास के स्टेशनों पर ले जाने की कोशिश करते हैं। मोहन सिंह, शिव कुमार पांडेय, दिलीप कुमार ने बताया कि प्लेटफार्म का ऊंचीकरण नहीं होने के कारण यहां से ट्रेन पकड़ने में सदैव दुर्घटना का डर बना रहता है।

करीब के दोनों स्टेशनों का हो गया है ऊंचीकरण

चनपटिया रेलवे स्टेशन के करीब के दोनों बगल के रेलवे स्टेशन साठी और कुमारबाग स्टेशन के प्लेटफार्म का उच्चीकरण हो गया है। जबकि इन दोनों रेलवे स्टेशन से चनपटिया के वनिस्पत कम यात्री सफर करते हैं। लेकिन चनपटिया रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म के ऊंचीकरण का काम अब तक शुरू नहीं हो सका है।

लोगों ने कई बार दिया है धरना

चनपटिया रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म ऊंचीकरण के लिए नियमित यात्री और चनपटिया के लोग कई बार धरना देकर रेल चक्का जाम कर चुके हैं। इसके लिए लोगों ने सर्वदलीय संघर्ष समिति गठन की और इसके बैनर तले कई बार रेल का चक्का जाम कर चुके हैं। सर्वदलीय संघर्ष समिति के संयोजक ओमप्रकाश क्रांति ने बताया कि नए वित्तीय वर्ष में यदि प्लेटफार्म का उच्चीकरण का काम आरंभ नहीं होगा तो फिर से चरणबद्ध आंदोलन शुरू किया जाएगा। चनपटिया रेलवे स्टेशन के स्टेशन अधीक्षक विजय कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि हम ट्रेन के परिचालन से संबंधित ही जानकारी दे सकते हैं। प्लेटफार्म के ऊंचीकरण नहीं होने से यात्रियों की परेशानी रोज देखते हैं। उम्मीद है जल्द ही प्लेटफार्म के उच्चचीकरण का कार्य आरंभ होगा।