गंगा नदी पर विक्रमशिला सेतु के समानांतर फोरलेन पुल के निर्माण को केंद्र की हरी झंडी

214

Patna: केन्द्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय ने भागलपुर में गंगा नदी पर विक्रमशिला सेतु के समानांतर फोरलेन पुल के निर्माण के लिए हरी झंडी दे दी है। लंबे समय से इसकी मांग की जा रही थी। इसके साथ ही नवगछिया से भागलपुर होते हुए झारखंड की सीमा तक नया राष्ट्रीय राजमार्ग भी होगा। इसके बनने से बड़ी संख्या में लोगों को राहत मिलेगी। यही नहीं उत्तर और दक्षिण बिहार के बीच बेहतर कनेक्टिविटी भी होगी। पूर्वोत्तर के लिए एक नया वैकल्पिक मार्ग भी उपलब्ध होगा।

केंद्र सरकार ने नवगछिया-भागलपुर नया पथ एनएच-131(बी) के रूप में अधिसूचित कर दिया है। भागलपुर से हंसडीहा पथ को भी राष्ट्रीय राजमार्ग बनाया गया है। इस तरह नए फोरलेन पुल के साथ ही नवगछिया से भागलपुर होते हुए झारखंड की सीमा तक नया राष्ट्रीय राजमार्ग बनेगा। यह मार्ग बिहार और झारखंड के बीच यातायात को और सुविधाजनक बनाएगा। इस पुल के बन जाने से कोसी-सीमांचल और पूर्व बिहार के जिलों को लाभ मिलेगा। यही नहीं पश्चिम के जिलों और पुलों का बोझ भी काफी कम होगा। राज्य के सीमांचल का झारखंड के साथ सड़क संपर्क तो सुगम होगा ही, पश्चिम बंगाल के साथ भी कनेक्टिविटी भी बढ़ेगी।

इस समानांतर पुल के निर्माण से विक्रमशिला पुल पर गाड़ियों का दबाव कम होगा। विक्रमशिला पुल से खगड़िया, सहरसा, मधेपुरा, पूर्णिया, किशनगंज, अररिया, कटिहार, भागलपुर व बांका सहित झारखंड और बंगाल के रास्ते आने-जाने वाली गाड़ियों को जाम से राहत मिलेगी।