आप शेर तो हम सवा शेर, नीतीश ने शराबबंदी के लिए जितने प्रयोग नहीं किए, उससे ज्यादा तस्करों ने दिखाई कारीगरी

197

DESK: बिहार में शराबबंदी को लेकर सरकार ने जितने प्रयोग नहीं किए होंगे, उससे कहीं ज्यादा तस्करों ने कर दिए। किसी ने शराब को गैस बना दिया तो किसी ने नारियल पानी। इस बार गोपालगंज में कार का इंजन बन गई थी 150 बोतल शराब। मिठाई और दवाई के बीच तो घुसकर चली ही शराब, मानव-बम का रूप धरे तस्कर भी पकड़े जा चुके हैं। दैनिक भास्कर ऐसी 10 जुगाड़ टेक्नोलॉजी के बारे में बता रहा है, जिसके जरिये शराब ले जाते हुए पिछले दिनों पुलिस और उत्पाद विभाग की टीम ने पकड़ा था।

1. नवादा में गैस सिलिंडर से शराब की पाउच बरामद
नवादा में शराब तस्करों ने शराब बेचने का नया तरीका ईजाद किया। गैस सिलिंडर की पेंदी को काटकर उसमें बड़ी चतुराई से शराब की पाउच भर कर बेचा करते थे। 2016 में उत्पाद विभाग की टीम ने दो युवकों को 145 पाउच देसी शराब के साथ पकड़ा था। ये गैस सिलिंडर में शराब की पाउच भरकर बेचते थे।

पूर्णिया में कुछ इस तरह शराब ले जाते पकड़ाया था तस्कर।

2. नेपाल बॉर्डर पर शरीर में चिपका लेते हैं शराब की बोतलें
सीतीमढ़ी के नेपाल बॉर्डर पर शराब तस्कर पूरे शरीर में शराब की बोतलें बांध लेते हैं और उसके ऊपर से ढीला कपड़ा पहन लेते हैं, ताकि आसानी से सीमावर्ती इलाके में शराब बेच सकें। कई बार ऐसे तस्करों को SSB और स्थानीय पुलिस ने पकड़ा है। पूर्णिया में भी ऐसे तस्कर पकड़ाए।

छपरा में बाइक की टंकी और सीट से शराब बरामद हुई थी।

3. बाइक की टंकी में शराब
छपरा के माझी थाने की पुलिस ने उत्तर प्रदेश सीमा पर एक बाइक पकड़ी थी। इसमें पेट्रोल टंकी के नीचे एक बॉक्स बनाया गया था, जिसके अंदर शराब की बोतल छुपाई गई थी। इसके अलावा सीट के नीचे भी शराब की बोतलें छुपा कर लाई जा रही थीं।

ट्रक में गुप्त चैम्बर बनाकर शराब की तस्करी का गोपालगंज में भंडाफोड़ हुआ था।

4. ट्रक में गुप्त चैंबर बनाकर लाते थे शराब
गोपालगंज में वाहन चेकिंग के दौरान विदेशी शराब से भरे दो डीसीएम ट्रक को यूपी सीमा से सटे बल्थरी चेकपोस्ट से जब्त किया गया था। इस ट्रक में गुप्त चैम्बर बनाकर शराब की तस्करी की जा रही थी।

नवादा जिले के नगर थाना क्षेत्र में नारियल पानी की आड़ में शराब बेची जा रही थी।

5. नारियल में भरकर बेची जाती थी शराब
इसी साल फरवरी में नवादा जिले के नगर थाना क्षेत्र में नारियल पानी की आड़ में शराब बेची जा रही थी। नारियल में जहां पानी भरा होता है, उसे निकाल कर तस्कर उसमें शराब भरकर लोगों को पिला रहे थे।

सारण में पानी टैंकर के जरिये हरियाणा की शराब जब्त की गई थी।

​​​​6. पानी के टैंकर में भरकर लाते थे शराब
इसी साल फरवरी में शराब बिक्री के नए तरीके सामने आए। बिहार के सारण में पुलिस ने पानी के ऐसे टैंकर को पकड़ा, जिसके जरिये हरियाणा की शराब को अवैध तरीके से बिहार के इलाकों में बेचा जा रहा था।

छपरा जाने के मार्ग में मधुमक्खी पालन के बक्से का घेरा बनाकर शराब ले जा रहे थे तस्कर।

7. मधुमक्खी पालन के बक्से में शराब
शराब तस्करों को पकड़ने के अभियान के दौरान बड़हरा थाना अंतर्गत बबुरा से छपरा जाने के मार्ग में शराब के कार्टून को ट्रक में चारों तरफ से मधुमक्खी पालन के बक्से का घेरा बनाकर रखा गया था। उत्पाद विभाग और पुलिस की टीम ने ऐसे तरीके से शराब की तस्करी को भंडाफोड़ किया था।

नवादा में लग्न की टोकरी में मिठाई की जगह शराब को सौगात की तरह ले जा रहे थे तस्कर।

8. टोकरी में मिठाई की जगह शराब की सौगात
नवादा में शराब तस्करी के नए तरीके का पुलिस ने भंडाफोड़ किया था। यहां लग्न की टोकरी में संदेश और सौगात की शक्ल देकर उसमें मिठाई की जगह देसी शराब भरी मिली थी। शराब को झारखंड से बिहार भेजा जा रहा था।

बिहार से सटे यूपी बॉर्डर पर कुछ इस तरह हो रही थी शराब की तस्करी।

9. बोलेरो की छत में बनाई थी शराब की केबिन

बिहार से सटे यूपी बॉर्डर से चंदौली के पास एक बोलेरो को पुलिस ने जब्त किया था, जिसकी छत पर केबिन बनाकर उसमें भारी मात्रा में शराब रखी मिली थी। शराब की इस बड़ी खेप को तस्कर बिहार में बेचने के लिए ला रहे थे।

शेखपुरा में गाड़ी की टायर में रखकर शराब ले जा रहे थे तस्कर।

10. टायर में भरकर बेचते थे शराब
शेखपुरा में शराबबंदी के बाद तस्करों ने एक से एक नायाब तरीके निकाले। गाड़ी के टायर में हवा की जगह शराब भरकर लाते पकड़े गए। शेखपुरा में मारुति कार की पेट्रोल टंकी में शराब रखकर उसकी तस्करी का भी भंडाफोड़ हुआ था।