BJP के लिए बिहार चुनाव में नीतीश सिर्फ एक मुखौटा, राम मंदिर और मोदी के काम पर ही मांगेंगे वोट

225

Patna:सीएम नीतीश कुमार भले हीं अपने 15 साल के कामों को गिनाते रहे हों और उसी के नाम पर वोट देने की अपील लोगों से कर रहे हैं लेकिन बीजेपी मानती है कि पीएम मोदी ने पिछले 6-7 वर्षो में जो काम किया है बिहार चुनाव में उसका लिटमस टेस्ट होना है। इसलिए बीजेपी ने राम मंदिर, धारा 370 और राष्ट्रवाद के मुद्दे को आगे कर दिया है।

तो वहीं बीजेपी का एजेंडा क्लियर नजर आ रहा है। पार्टी राष्ट्रवाद, राम मंदिर और धारा 370 जैसे मुद्दों के सहारे भी सियासी वैतरणी पार करने की तैयारी में है यानि बीेजेपी की कोशिश है कि जिस तरह से 2019 के लोकसभा चुनाव में राष्ट्रवाद के मुद्दे को भुनाया गया उसी तरह 2020 के बिहार विधानसभा चुनाव में राष्ट्रवाद, राम मंदिर और धारा 370 को भुनाया जाए। फस्र्ट बिहार-झारंखड से बातचीत करते हुए पूर्व केन्द्रीय मंत्री और बीजेपी सांसद रामकृपाल यादव ने कहा कि पीएम मोदी ने जो काम पिछले 6-7 सालों में किया है उसका असर गांव-गरीब किसान मजदूर सब पर पड़ा है। अपने नेतृत्व क्षमता की बदौलत उन्होंने देश को उंचाईयों तक पहुंचाने का काम किया है। पीएम मोदी राष्ट्र के नेता हैं। उनसे बड़ा नेता देश में कोई नहीं है।

रामकृपाल यादव ने कहा कि धारा 370, राम मंदिर जैसी समस्याएं जो वर्षों से थी उसका समाधान पीएम मोदी और गृहमंत्री अमित शाह ने किया। रामकृपाल यादव ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी की विचारधारा राष्ट्रवाद है। विकास के साथ-साथ इन राष्ट्रीय मुद्दों पर भी लोगों ने मुहर लगाया है।