सनकी पती ने पत्‍नी समेत पांच बच्‍चों को काट डाला, कहा- मन में आया और कर दिया

136

Patna:बिहार के सिवान (Siwan) जिले से एक खौफनाक वारदात की खबर मिल रही है। सिवान जिले के भगवानपुर (Bhagwanpur) थाना क्षेत्र के बलहा (Balaha Village) गांव में सोमवार की रात एक सनकी ने अपनी पत्‍नी (Wife) और पांच बच्‍चों (children) को टांगी (Sharp weapon) से काट डाला। इनमें से चार बच्‍चों की मौत (Death) हो चुकी है, जबकि पत्‍नी और एक अन्‍य बच्‍चा गंभीर हालत में हैं। दोनों घायलों का इलाज पटना के पीएमसीएच (PMCH) में कराया जा रहा है। मरने वालों में एक बेटी और तीन बेटे शामिल हैं।

आरोपित का कहना है कि उसने वारदात को अंजाम देने के बाद खुद भी जहर खा‍ लिया है। वह खुद पुलिस तक पहुंचा था। अब उसका इलाज सिवान के सदर अस्‍पताल में कराया जा रहा है। उसने पुलिस को कई अजीब बातें बताई हैं, जिससे पता चलता है कि उसका मानसिक संतुलन पूरी तरह बिगड़ा हुआ है।

बोला- मेरे अंदर एक हवा प्रवेश कर गई, जो मिला उसे मारता गया

सोमवार की देर रात हुई इस खौफनाक वारदात को जो भी सुन रहा है, सन्‍न हो जा रहा है। मरने वालों में बलहा के रहने वाले अवधेश चौधरी (Awadhesh Chaudhary) की बेटी ज्योति कुमारी (17 वर्ष), तीन बेटे अभिषेक कुमार (15वर्ष), नीतीश कुमार उर्फ भोला (12 वर्ष) और मुकेश (सात वर्ष) शामिल हैं। वहीं पत्नी रीता देवी और एक बेटी अंजली कुमारी पटना मेडिकल कॉलेज एवं अस्‍पताल (पीएमसीएच) रेफर हैं। सनकी पति अवधेश चौधरी ने भी मीडिया से बात करते हुए कहा कि मैं टहलने के लिए गया था, तभी अचानक मेरे शरीर में एक हवा (evil soul) प्रवेश कर गई और उसके बाद से मुझे यह लगा कि सामने जो व्यक्ति आएगा उसे मार (Kill) देना है। इसके बाद मेरे ही बच्चे और पत्नी सामने आए और मैं उन्हें मारता चला गया।

वारदात को अंजाम देने के बाद उसने खुद किया डीएम को फोन

अवधेश ने बताया कि वारदात को अंजाम देने के बाद वह थाना (Police Station) की तरफ चला गया। वहां उसने किसी तरह डीएम का नंबर लिया और कॉल लगाई। उसका कहना है कि डीएम के नंबर पर कॉल रिसीव नहीं होने के बाद वह घर की तरफ लौटने लगा। इसी बीच रास्‍ते में उसे पुलिस गश्ती दल (Police Patrolling Team) ने रोका तो उसने घटना की जानकारी उन्हें दी। पूरा वाकया सुनकर हैरान पुलिस वालों ने तुरंत उसे अपनी गाड़ी में बैठाया और उसके घर पहुंचे। उसके घर पहुंचने पर पुलिस वालों ने देखा कि वहां चार लोगों के शव खून से लथपथ पड़े हैं। उसकी पत्‍नी और एक बेटे की सांस अभी चल रही थी, जिन्हें पुलिस ने इलाज के लिए सदर अस्पताल में भर्ती कराया। सदर अस्‍पताल में प्राथमिक उपचार के बाद दोनों की गंभीर स्थिति को देखते हुए बेहतर इलाज के लिए पटना रेफर कर दिया गया।

हत्या के बाद खुद पर छिड़क लिया केरोसिन, खाया जहर

अवधेश का यह भी कहना है कि उसने वारदात को अंजाम देने के बाद स्वयं भी आत्महत्या करने की कोशिश (Sucide Attempt) की। उसने घर में रखे मिट्टी के तेल (Kerosine Oil) को अपने ऊपर छिड़क लिया और घर में रखे जहर या ज्वलनशील पदार्थ को खा लिया। पुलिस ने उसे गिरफ्तार करते हुए इलाज के लिए सदर अस्‍पताल में भर्ती कराया है।

इस खौफनाक वारदात के बाद पुलिस ने घर को सील कर दिया है। पुलिस का कहना है कि आगे जांच के वक्‍त ही घर को खोला जाएगा।