ऑक्सीजन मास्क लगाकर फर्श पर लेटा रहा कोरोना का मरीज, देखें पटना के अस्पताल की भयावह तस्वीर

191

Patna: पटना स्थित एनएमसीएच (NMCH) की कुव्यवस्था और लाचार सिस्टम को लेकर पिछले दिनों कई वीडियो सामने आए जिसके बात खुद स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय (Mangal Pandey) ने एनएमसीएच का दौरा किया और सब कुछ ठीक ठाक होने का दावा किया लेकिन वहां की स्थिति आज भी जस की तस है. हॉस्पिटल में जहां-तहां डेड बॉडी पड़ा हुआ है. मरीज बेड से गिर कर मरा पड़ा है लेकिन उसे कोई उठाने तक नहीं आ रहा है. लाशों के साथ रहना मरीजों की मजबूरी बन चुकी है.

किसी को ऑक्सीजन तो किसी को नहीं मिल रहा है बेड

अस्पताल के कोरोना वार्ड में बिजली नहीं है जिससे मरीजों को ऑक्सीजन नहीं मिल पा रहा है. मरीजों के परिजन रात से सुबह तक अस्पताल कर्मियों से गुहार लगा रहे हैं लेकिन कोई सुनने वाला नहीं. हद तो ये है कि अस्पताल के कॉरिडोर में कोरोना का मरीज फर्श पर लेटा है और अस्पताल कर्मी आसपास से गुजर रहे हैं लेकिन उसे कोई देखने वाला नहीं है.

बेड के नीचे गिरे हैं शव

एनएमसीएच की बदहाली की फिर से ताजा तस्वीर रविवार को सामने आई है जिसमें एनएमसीएच के इमरजेंसी वार्ड में कई कोरोना मरीजों का शव पड़ा हुआ है. एनएमसीएच का जो वीडियो न्यूज़ 18 के पास आया है उसमें साफ दिख रहा है कि एक कोरोना मरीज अपने बेड से नीचे गिर कर मरा हुआ है और वहीं बगल में स्ट्रेचर पर एक डेड बॉडी रखा हुआ है और उसी वार्ड में कई कोरोना मरीज अपना इलाज करा रहे हैं. दूसरी तस्वीर में एक कोरोना मरीज अस्पताल के कॉरिडोर के बीचोबीच पड़ा है और उसकी कोई सुध नहीं ले रहा है.

दो दिन पहले ही स्वास्थ्य मंत्री ने किया था दौरा

एनएमसीएच की बदहाल स्थिति की तस्वीरें आने के दो दिन पहले 23 जुलाई को सूबे के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने एनएमसीएच का दौरा किया था और सब कुछ ठीक ठाक होने का दावा भी किया था लेकिन स्वास्थ्य मंत्री के दौरे के दो दिन बाद हीं बदहाली का वीडियो फिर एनएमसीएच से फिर आने लगा है जबकि कुछ दिनों पहले इन्ही वजहों से सरकार ने एनएमसीएच के अधीक्षक को भी बदल दिया था लेकिन अभी भी एनएमसीएच के हालात जस के तस है.