4 जनवरी से खुल रहे स्कूल-कॉलेजों को लेकर बिहार सरकार ने जारी किया गाइडलाइन

115

Desk: कोरोना और लॉकडाउन (Lockdown) के कारण पिछले 9 महीने से बंद बिहार के स्कूल, कॉलेज समेत शिक्षण संस्थान नए साल में खुल जाएंगे. सरकार ने 4 जनवरी 2021 से शिक्षण संस्थानों को दोबारा खोलने का निर्णय लिया है इसके आलोक में बिहार सरकार के शिक्षा विभाग ने गाइडलाइन (Bihar Government Guideline For Schools) जारी किया है. नए साल में स्कूल, कॉलेज, विश्वविद्यालय समेत शिक्षण संस्थानों को खोलने वाले लोगों को शिक्षा विभाग के इस निर्देश का पूर्णतया पालन करना होगा.

शिक्षा विभाग ने इस महामारी को लेकर विशेष रूप से गाइडलाइन बनाए हैं जिनमें सोशल डिस्टेंसिंग के अलावा छात्रों के आवाजाही समेत उनकी उपस्थिति के लिए भी अलग तरीके से मानदंड तय किए गए हैं. दोबारा स्कूल, कॉलेज, यूनिवर्सिटी खोलने से पहले शिक्षा विभाग द्वारा एक पत्र जारी किया गया है जिसमें आवश्यक दिशा निर्देश दिए हैं. नए नियमों के तहत सरकार ने जो दिशा निर्देश जारी किए हैं, उनमें से कुछ मुख्य निम्नलिखित हैं.

1.पचास फीसदी क्षमता के साथ ही खोले जाएंगे शैक्षणिक संस्थान

2. पहले दिन 50% तो दूसरे दिन दूसरे 50% छात्र आएंगे.

3. सभी स्कूली छात्रों को दो मास्क उपलब्ध कराए जाएंगे.

4.कोचिंग संस्थानों, छात्रावासों के लिए भी निर्देश जारी.

5.पानी की टंकी, किचेन, वाशरूम को सेनेटाइज किया जाएगा.

6.डिजिटल थर्मोमीटर, सेनेटाइजर, साबुन की सुविधा होगी उपलब्ध

7. छात्रों के बीच 6 फीट की दूरी रखी जाएगी.

8.भीड़ वाले समारोह से बचने के भी शिक्षा विभाग ने दिए निर्देश

मालूम हो कि बिहार में 4 जनवरी,2021 से शिक्षण संस्थान दोबारा खोले जा रहे हैं. 4 जनवरी से नौवीं से 12वीं तक के विद्यार्थियों के लिए स्कूल खुलेंगे. जबकि कॉलेज सिर्फ अंतिम वर्ष के विद्यार्थियों के लिए खोले जाएंगे. एक सप्ताह के बाद आपदा प्रबंधन समूह समीक्षा करेगा. आपदा प्रबंधन समूह यह देखेगा कि स्कूल-कॉलेज खोलने के बाद कोरोना का प्रकोप कहीं बढ़ तो नहीं रहा है. समीक्षा में सबकुछ ठीक रहा तो 18 जनवरी से कक्षा 1-8 तक के स्कूल और सभी कक्षा के लिए कॉलेज खोल दिए जाएंगे. हालांकि, इसके बाद भी नियमित रूप से साप्ताहिक समीक्षा जारी रहेगी.