दारोगा पर GST अधिकारी ने लगाया यौन शोषण का आरोप, शिकायत के चार दिन बाद कर ली शादी

67

Patna:जीएसटी की एक महिला अधिकारी ने नवनियुक्त दारोगा राजमणि पर यौन शोषण का आरोप लगाते हुए महिला थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई है. नालंदा निवासी राजमणि वर्तमान में पटना के कंकड़बाग थाने में तैनात हैं.

महिला थाने की पुलिस पर भी पीड़िता ने लगाया आरोप

पीड़िता ने महिला थाने की पुलिस पर भी आरोप लगाया है. उनका कहना है कि 24 जून को प्राथमिकी दर्ज कराई गई थी, लेकिन थानाध्यक्ष आरती जायसवाल ने उन्हें ही बुरा-भला कहा और कार्रवाई करने में देरी की. इसके कारण आरोपित ने 28 जून को शादी कर ली. प्राथमिकी में एससी-एसटी एक्ट की धारा भी लगाई गई है.

थानाध्यक्ष बोलीं, जल्द गिरफ्तार किया जाएगा आरोपित

वहीं, महिला थानाध्यक्ष ने कहा कि आवेदन पर प्राथमिकी दर्ज कर ली गई. पीड़िता को मेडिकल जांच के लिए कहा गया लेकिन वे कोरोना के कारण तैयार नहीं हुईं. पुलिस सहयोग कर रही है. आरोपित को जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा.

पिछले 15 साल से एक दूसरे को जानते थे दोनों

प्राथमिकी के अनुसार, नवनियुक्त दारोगा राजमणि से जीएसटी की महिला अधिकारी का पिछले 15 सालों से प्रेम प्रसंग था. पीड़िता बीपीएससी की परीक्षा पास कर अधिकारी बनीं. तब तक राजमणि शादी के लिए तैयार था, लेकिन जब उसने दारोगा की परीक्षा पास कर ली तो वह मुकर गया.

शादी के लिए मांगा था समय

सात अप्रैल को दोनों के बीच बातचीत हुई, जिसमें जीएसटी की महिला अधिकारी ने दारोगा से शादी के लिए वक्त मांगा और इस बीच दूसरी लड़की से विवाह तय कर लिया. अधिकारी की अधिवक्ता ने कई अफसरों से भी इस संबंध में बात की, लेकिन कहीं सुनवाई नहीं हुई. पीड़िता का आरोप है कि जब वे अपनी शिकायत लेकर महिला थाने गई तो थानाध्यक्ष आरती जायसवाल ने उन्हें ही बुरा-भला कहा और कार्रवाई करने में देरी की. इसके कारण आरोपित ने 28 जून को शादी कर ली.