रघुवंश प्रसाद सिंह ने कहा- ‘मैं बहुत आहत हूं’ और भेज दिया इस्तीफा

164

Patna:बिहार के राजनीतिक गलियारों में अक्सर ये कहा जाता है कि राष्ट्रीय जनता दल ( RJD) के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) और पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रहे रघुवंश प्रसाद सिंह (Raghuvansh Prasad Singh) एक दूसरे के काफी निकट रहे हैं. लालू रांची जेल में हैं तो रघुवंश बाबू फिलहाल पटना एम्स में कोरोना संक्रमण का इलाज करवा रहे हैं. इसी दौरान लालू के बेहद करीबी इस नेता ने ऐसा धमाका कर दिया कि बिहार की सियासत में अचानक हलचल मच गई है. दरअसल एम्स से ही उन्होंने राष्ट्रीय उपाध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया और पार्टी के भीतर हाल में हो रहे डेवलपमेंट को लेकर अपनी पीड़ा भी व्यक्त की. न्यूज18 से बात करते हुए आरजेडी नेता (RJD leader) ने कहा कि हमने हमेशा पार्टी के कठिन वक्त में साथ दिया, लेकिन आज बहुत दुखी हूं इसलिए हमने AIIMS से ही इस्तीफा भेज दिया.

रघुवंश प्रसाद सिंह ने कही ये बात
रघुवंश प्रसाद सिंह ने कहा कि आज जब हम अस्पताल में भर्ती हैं तो जिंदगी का कोई ठिकाना नहीं. इस बीच ही पार्टी में जिनको शामिल कराया जा रहा है ये पार्टी के लिए अच्छा नहीं है. उन्होंने कहा कि इस बात को लेकर मैंने पहले भी राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू यादव जी को इससे अवगत कराया था. उन्होंने हमें आश्वासन भी दिया था, फिर भी पार्टी क्या कर रही है. अब हमने फैसला कर लिया और तत्काल पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष के पद से इस्तीफा दे रहा हूं. बाद में राष्ट्रीय अध्यक्ष को पत्र भी भेज दूंगा.

रामा सिंह के आरजेडी में लाने की खबरों से नाराजगी

आरजेडी नेता ने कहा आज पार्टी जिनको ला रही है उससे मैं दुःखी हूं. मैं बहुत आहत हूं. बता दें कि लोक जनशक्ति पार्टी के पूर्व सांसद (LJP) और बाहुबली कहे जाने वाले राम किशोर सिंह उर्फ रामा सिंह (Rama Singh) चुनाव से ठीक पहले लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) के RJD का दामन थामने की बात कही जा रही है. चर्चा है कि कि रामा सिंह 29 जून को राजद जॉइन करेंगे. इसी बात से रघुवंश प्रसाद सिंह नाराज बताए जा रहे हैं.

रामा सिंह ने तेजस्वी यादव से की थी मुलाकात
गौरतलब है कि दो दिन पहले ही रामा सिंह ने तेजस्वी यादव से मुलाकात की थी और चर्चा ये है कि उनके साथ ही सवर्ण समाज से कई अन्य नेता भी राजद में शामिल होंगे. किसी जमाने में लालू और रघुवंश के कट्टर विरोधी रहे पूर्व सांसद रामा सिंह के शामिल किए जाने की खबरों से पार्टी के भीतर कई नेता नाराज बताए जा रहे हैं.

लालू और रामा सिंह में रही है राजनीतिक अदावत
रामा सिंह वही नेता हैं जो कभी लालू प्रसाद यादव और आरजेडी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रघुवंश प्रसाद सिंह के कट्टर विरोधी माने जाते थे. 2014 के लोकसभा चुनाव में रामा सिंह ने करीब एक लाख से ज्यादा वोट से रघुवंश प्रसाद सिंह को वैशाली से हराया था.

Input- News18