जाते-जाते तेजप्रताप की फजीहत कर गए रघुवंश प्रसाद, राजद में नेताओं की हुई NO ENTRY!

384

Patna: राष्ट्रीय जनता दल को समुद्र और रघुवंश बाबू को एक लोटा पानी बताने वाले तेज प्रताप यादव की अब बड़ी फजीहत हो रही है. रघुवंश प्रसाद सिंह जब पार्टी से नाराज चल रहे थे उस दौर में भी नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने उनके खिलाफ कोई बयान नहीं दिया. लेकिन तेज प्रताप यादव ने रघुवंश बाबू को लेकर जो बयान दिया था उससे लालू यादव भी नाराज हो गए थे. आनन-फानन में आरजेडी सुप्रीमो लालू यादव ने तेज प्रताप को रांची रिम्स में बुलाया था और उन्हें रघुवंश बाबू पर बयानबाजी नहीं करने की सलाह दी थी.

तेज प्रताप यादव ने जिन रघुवंश बाबू को एक लोटा पानी बताया जाते जाते वही रघुवंश बाबू लालू के इस बड़े लाल का शटर डाउन कर गए. दरअसल तेज प्रताप यादव अगले दो से 3 दिनों में कई लोगों को आरजेडी की सदस्यता दिलवाने वाले थे. तेज प्रताप यादव लगभग आधा दर्जन विधानसभा सीटों पर अपना कैंडिडेट दिलवाना चाहते हैं और इसीलिए उन्होंने लंबी चौड़ी प्लानिंग कर रखी थी. 2 दिन पहले उन्होंने जहानाबाद से आने वाले कमलेश शर्मा को आरजेडी की सदस्यता दी थी और अब ऐसे ही कई कैंडिडेट आरजेडी में तेज प्रताप के जरिए एंट्री मारने वाले थे. लेकिन अब आरजेडी कार्यालय तीन दिनों तक बंद कर दिया गया है. रघुवंश बाबू की शोक के कारण तेज प्रताप को उनकी तैयारी में बड़ा झटका लगा है.

रघुवंश बाबू के निधन के बाद तेज प्रताप यादव ने ट्वीट करते हुए शोक संवेदना प्रकट की थी. तेज प्रताप यादव ने अपने ट्वीट में लिखा हमारा सिरमौर हमारे बीच नहीं रहा पूर्व केंद्रीय मंत्री और वरिष्ठ नेतृत्व करता आदरणीय नेताजी की मौत की खबर सुनकर मर्माहत हूं. भगवान उनकी आत्मा को शांति दें. आपका हम सबों को छोड़कर जाना मानो हमारे सिर से एक अभिभावक का साया हटने जैसा प्रतीत हो रहा है. तेज प्रताप यादव ने जब यह ट्वीट किया उसके बाद वह ट्विटर पर बुरी तरह से ट्रोल हो गए यूजर उन्हें एक लोटा पानी वाले बयान की याद दिलाने लगे. तेजप्रताप ट्विटर पर खरी खोटी सुनते रहे कई लोगों ने यह भी याद दिलाया कि अब घड़ियाली आंसू बहाने से कुछ नहीं होने वाला है.

तेज प्रताप यादव ने रघुवंश बाबू के मामले पर जो फजीहत कराई है तेजस्वी यादव अब उसका डैमेज कंट्रोल करने में जुटे हुए हैं. तेजस्वी यादव रघुवंश बाबू का पार्थिव शरीर पटना लाए जाने के बाद उनके अंतिम दर्शन को भी पहुंचे थे. उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की और फिर उनकी अंत्येष्टि में भी शामिल हुए. रघुवंश प्रसाद को लेकर तेजप्रताप यादव ने जो बयान दिया था अब रघुवंश प्रसाद सिंह के चले जाने के बाद राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव की नाराजगी इतनी बढ़ गयी है कि अब तेजप्रताप यादव के पर पूरी तरह से कतर दिये गये हैं. तेजप्रताप यादव एक भी नेता की एंट्री राजद में नहीं करवा पाएंगे, टिकट दिलवाना तो दूर की बात है.