सेक्स रैकेट में गिरफ्तार लड़की निकली कोरोना पॉजिटिव, एक DSP, 2 थानेदार और 1 दर्जन सिपाही हुए क्वारंटाइन

146

Patna:कोरोना संकट की महामारी से बचने के लिए लोगों एक दूसरे से दूरी बनाकर रहने की अपील की जा रही है. स्वास्थ्य विभाग की ओर से सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने के लिए कहा जा रहा है. कोरोना संक्रमण से जुडी हुई एक ऐसी घटना सामने आई है, जिसने सबको हैरान कर दिया है. दरअसल जिस्मफरोशी के धंधे में पकड़ी गई एक लड़की कोरोना पॉजिटिव पाई गई है. जिसके बाद पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया है. एक DSP, 2 थानेदार और लगभग 1 दर्जन सिपाही को क्वारंटाइन किया गया है.

मामला राजस्थान के उदयपुर का है. जहां सैक्स रैकेट में पकड़ी गई युवती के कोरोना संक्रमित आने का सनसनीखेज़ मामला सामने आया है. लड़की के संक्रमित पाए जाने के बाद पुलिस की गिरफ्त में आई सैक्स रैकेट में शामिल अन्य लड़कियों और सदस्यों के बीच हड़कंप मच गया है. पुलिसकर्मियों के बीच भी हड़कंप मच गया है. लड़की की हिस्ट्री और उदयपुर में संपर्क में रहे लोगों का पता लगाने में पुलिस जुटी हुई है.

दरअसल, उदयपुर जिले की सुखेर थाना पुलिस ने दो दिन पहले अलग-अलग जगहों पर दबिश देते हुए सैक्स रैकेट का भंडाफोड़ किया था. इस दौरान पुलिस ने इस धंदे से जुड़ी सात युवतियों समेत रैकेट के कुछ अन्य सदस्यों को भी गिरफ्तार किया था. इन सभी सदस्यों के खिलाफ पुलिस ने पीटा एक्ट के तहत मामला दर्ज कर जांच भी शुरू की थी.

पुलिस के होश उस समय उड़ गए जब सैक्स रैकेट से जुड़ी एक युवती कोरोना जांच के बाद संक्रमित पाई गई. डॉक्टरों की ओर से युवती के कोरोना पॉजिटिव होने की जैसे ही पुष्टि हुई पूरे पुलिस थाने में हडकंप की स्थिति बन गई. जानकारी में सामने आया है कि कोरोना संक्रमित युवती नेपाल निवासी है. वो मुंबई और अहमदाबाद होती हुई उदयपुर पहुंची थी.

पुलिस पड़ताल में ये भी सामने आया है कि कोरोना संक्रमित युवती पिछले लगभग 10 दिन से उदयपुर के ही एक होटल में रह रही थी. पुलिस फिलहाल युवती की हिस्ट्री व उदयपुर में संपर्क रहे लोगों का पता लगाने में जुटी है. पुलिस अधिकारियों का कहना है कि फिलहाल एहतियात के तौर पर युवती के संपर्क में आये पुलिसकर्मियों को क्वारंटीन कर दिया गया है. जल्द ही लगभग एक दर्जन से ज्यादा पुलिस्कर्मियों की कोरोना जांच करवाने के भी निर्देश दिए गए हैं.

पुलिस की ओर से मिली जानकारी के मुताबिक सेक्स रैकेट में गिरफ्तार लड़कियों को पुलिस कस्टडी में रखा गया और फिर उनकी कोरोना जांच कराई गई. गिरफ्तार युवतियों के साथ पुलिस लाइन से चार महिला कॉन्स्टेबल को ड्यूटी पर लगाया गया. तो वहीं थाने की टीम ने पूरी कागजी कार्रवाई की. जांच रिपोर्ट में एक युवती के कोरोना पॉजिटिव होने की पुष्टि के बाद पुलिस विभाग ने अब उन सभी लोगों की लिस्ट तैयार की है जो कार्रवाई के दौरान इसके संपर्क में आए थे. पुलिस विभाग की ओर से वैसे सभी लोगों को क्वारंटाइन करने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है.

एएसपी गोपाल स्वरूप मेवाडा ने बताया कि डीएसपी चेतना भाटी के नेतृत्व वाली पूरी टीम को क्वारंटाइन रहने के निर्देश दिए गए हैं. तो वहीं सुखेर और घंटाघर थाने के पुलिसकर्मियों की कोरोना जांच भी कराई जा रही है. उन्होंने बताया कि एक डीएसपी, दो थानेदार और थाने के 11 क्वारंटाइन किए गए हैं. बताया जा रहा है कि सभी पुलिसकर्मियों की कोरोना की दो जांच की जाएगी. दूसरी जांच भी नेगेटिव आने के बाद सभी राहत की सांस ले सकेंगे. श्यावृत्ति में लिप्त यह युवती दिल्ली की रहने वाली बताई जा रही है. फिलहाल जमानत मिलने के बाद उसे छोड़ दिया गया था. अब जबकि उसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है, पुलिस ने युवती की तलाश शुरू कर दी है.