बॉलीवुड अभिनेता सोनू सूद के ट्वीट से मिली छत, पटना में 10 दिनों से फुटपाथ पर सो रही थी महिला

275

Patna: फिल्म अभिनेता सोनू सूद के ट्वीट ने पिछले दस दिनों से फुटपाथ पर सो रही महिला अंजू देवी के परिवार को 24 घंटे के अंदर छत दिला दी। अभिनेता की मदद तो अभी तक नहीं पहुंची मगर उनके ट्वीट के सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद पटना के समाजसेवी ही मदद के लिए आगे आ गए। फिलहाल, कंकड़बाग के अमित श्रीवास्तव ने अंजू को अपने मकान में चलने वाले लॉज के एक कमरे में जगह दे दी है। अन्य समाजसेवियों ने मिलकर उसके खाने-पीने का इंतजाम किया है। अंजू देवी मंदिरी मुहल्ले में किराये पर रहती थी। पति मानसिक रूप से बीमार हैं। होटल में काम कर वह घर का खर्च चलाती थी मगर लॉकडाउन के कारण रोजगार छीन गया।

पानी पीकर बच्चों ने किया गुजारा

अंजू कहती है, पिछली बार लॉकडाउन लगने के बाद उन्होंने कुछ दिनों तक तो भीख मांगकर और लोगों का जूठा खाकर गुजारा किया। इस बार लॉकडाउन लगा तो परेशानी और बढ़ गई। किराया नहीं दे पाने के कारण मकान मालिक ने घर से निकाल दिया। पास में जो थोड़े-बहुत पैसे बचे थे, वे कुछ दिनों तक चना और सत्तू खाने में खत्म हो गये। एक बार तो ऐसा हुआ कि बच्चों को सिर्फ पानी पिला कर रखना पड़ा। परिवार को दस दिन सड़क पर गुजारने पड़े।

अंकित ने किया था ट्वीट

इसी बीच अंकित राजगढ़िया नाम के एक यूजर ने फ्रेजर रोड में फुटपाथ पर लेटी अंजू देवी और पास खेलते बच्चों की तस्वीर सोनू सूद को ट्वीट की। ट्वीट में लिखा, महिला को मकान मालिक ने निकाल दिया है। सड़कों के किनारे पड़े दो बच्चे भूख से बिलख रहे हैं। आप मदद करें। सोनू सूद ने करीब एक घंटे बाद री-ट्वीट किया- ‘कल इस परिवार के सिर पर छत होगी। इन बच्चों के लिए एक घर जरूर होगा। इसके बाद से ही यह ट्वीट वायरल हुआ और पटना के समाजेवियों ने मिलकर महिला को खोजा और मदद की।

कंकड़बाग के अमित ने अपने घर में दी शरण

अमित कहते हैं कि उन्हें अभिनेता सोनू सूद के ट्वीट के बारे में जानकारी नहीं थी। उन्हें बस इतना पता था कि एक महिला को मदद की जरूरत है। उनका कहना है कि यह परिवार जब तक चाहे, उनके घर पर रह सकता है। पूरे परिवार के खाने-पीने का खर्च भी उठाने की बात अमित ने कही है।