बिहार के सभी गांवों में लगाई जाएंगी सोलर स्ट्रीट लाइटें, कैबिनेट से मंजूरी मिलते ही हरकत में आया विभाग

105

Desk: मुख्यमंत्री के सात निश्चय-दो के तहत बिहार के सभी गांवों में 12 वाट के सोलर स्ट्रीट लाइटें लगाई जाएंगी। यह बल्ब एलईडी होगा। इससे न केवल गांवों की गलियां भरपूर जगमग होंगी, बल्कि इससे बिजली की भी बचत होगी।

सभी गांवों में सोलर स्ट्रीट लाइट लगाने के लिए सरकार के संबंधित विभागों की ओर से आवश्यक कार्रवाई शुरू कर दी गई है। बल्ब लगाने के लिए पंचायती राज विभाग ने बिजली कंपनी को पत्र भेजा तो बिहार रिन्यूअबल इनर्जी डेवलमेंट एजेंसी (ब्रेडा) ने एजेंसी चयन की प्रक्रिया शुरू कर दी।

दरअसल चुनावी मैदान में जाने से पहले मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सात निश्चय-2 की घोषणा की थी। इसमें स्वच्छ गांव-समृद्ध गांव के तहत हर गांव में सोलर स्ट्रीट लाइट लगाने का लक्ष्य तय हुआ है। बीते मंगलावर को राज्य मंत्रिपरिषद से सात निश्चय-दो की मंजूरी मिल गई। कैबिनेट से मंजूरी मिलते ही सभी विभाग हरकत में आ गए।

सात निश्चय-दो के तहत हर गांव में सोलर स्ट्रीट लाइट लगाने की योजना को क्रियान्वित करने का जिम्मा पंचायती राज को बनाया गया है। नोडल विभाग के नाते पंचायती राज ने पत्र लिखकर बिजली कंपनी को पत्र लिखकर इस पर तेजी से काम करने को कहा है।

विभाग ने साफ कहा है कि हर गांव में सोलर लाइट लगाने के लिए ब्रेडा अविलंब तकनीकी प्रक्रिया शुरू कर दे। पंचायती राज का पत्र मिलते ही ब्रेडा भी हरकत में आ गया है। ब्रेडा के निदेशक आलोक कुमार ने कहा कि पत्र मिलते ही आवश्यक प्रक्रिया शुरू कर दी गई है।

सरकार के अन्य योजनाओं के लिए The Digital Bharat को जरूर विजिट करें 

हर गांव में सोलर लाइट लगाने के लिए ब्रेडा एजेंसियों के इम्पैनलमेंट (सम्बद्धता) करने की प्रक्रिया में जुट गया है। कौन एजेंसी गांवों में जाकर सोलर लाइट लगाएगी, यह इम्पैनलमेंट से ही तय होगा। ब्रेडा के अधिकारियों ने कहा कि जल्द ही निविदा की प्रक्रिया शुरू होगी।

निविदा में इस बात का पूरा ख्याल रखा जाएगा कि कैसे गांवों में लगने वाली सोलर लाइट की गुणवत्ता बेहतर रहे। लाइट का रखरखाव कैसे हो, इसकी नीति भी ब्रेडा ही बनाएगा। ब्रेडा की कोशिश है कि ऐसी व्यवथा हो कि सोलर लाइट जब लग जाए तो वह ठीक तरीके से काम भी करे। इसके लिए एजेंसियों को ही कुछ वर्षों तक रखरखाव का जिम्मा भी दिया जाएगा।

हर खेत को पानी
हर गांव और हर इच्छुक लोगों को बिजली कनेक्शन देने के बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सात निश्चय-दो में हर खेत को पानी पहुंचाने की घोषणा की है। हर खेत को पानी पहुंचाने के लिए बिजली कंपनी पहले से ही अलग से फीडर बना रही है। एक लाख से अधिक लोगों को बिजली कनेक्शन भी दिया जा चुका है।

राज्य मंत्रिपरिषद से सात निश्चय-दो पारित होते ही बिजली कंपनी इस प्रयास में जुट गई है कि कैसे इस योजना को और तेज गति से पूरा किया जाए। कृषि विभाग के साथ मिलकर कंपनी ने तय किया है कि सभी इच्छुक किसानों को अविलंब बिजली कनेक्शन दिया जाएगा। मुख्यालय से लेकर फील्ड तक के अधिकारी हर सप्ताह इसकी समीक्षा करेंगे।

कैबिनेट से सात निश्चय-दो पारित होने के बाद मुख्य सचिव की ओर से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में इसकी समीक्षा की गई। पंचायती राज को नोडल विभाग बनाया गया। इसके बाद बिजली कंपनी को पत्र लिखकर हर गांव में सोलर स्ट्रीट लगाने की कार्रवाई शुरू करने को कहा गया है। – अमृत लाल मीणा, अपर मुख्य सचिव, पंचायती राज विभाग।