तेजस्वी ने की सवालों की बौछार, अमेरिका और बिहार का फर्क समझिए नीतीश जी…

190

Patna : अमेरिका की तरह बिहार में भी कोरोना काल के दौरान चुनाव कराए जाने की दलील जेडीयू को भारी पड़ रही है। जेडीयू के नेता लगातार यह बयान दे रहे थे की अगर कोरोना संक्रमण के दौरान अमेरिका में चुनाव कराए जा सकते हैं तो फिर बिहार में क्यों नहीं? जेडीयू नेताओं के इसी दलील पर नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने अब सवालों की बौछार कर दी है। तेजस्वी यादव ने सीधे-सीधे मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से कई सवाल पूछे हैं।

नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से पहला सवाल पूछा है कि क्या अमेरिका में जिस तरह 138000 लोग कोरोना वायरस से मारे गए, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार उसी तरह बिहार में इतने लोगों को मरवाना चाहते हैं? कोरोना संकट के दौरान तेजस्वी यादव का मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर यह सबसे बड़ा हमला है। तेजस्वी यादव ने कहा है कि जेडीयू के नेता सत्ता के अहंकार में जमीनी हकीकत से दूर है. अमेरिका की बात तो दूर भारत सरकार के नीति आयोग की रिपोर्ट, राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन, ग्रामीण स्वास्थ्य मिशन, और यूनिसेफ के आंकड़ों में बिहार हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर के मामले में सबसे फिसड्डी राज्य है। तेजस्वी ने कहा है कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को अपनी सरकार के बारे में रिपोर्ट का अध्ययन करना चाहिए।

तेजस्वी ने पूछे 11 सवाल

अमेरिका में 1,38,000 लोग मरे है। क्या माननीय मुख्यमंत्री नीतीश कुमार बिहार में भी इतने लोगों को कोरोना से मरवाना चाहते है?

क्या बिहार में अमेरिका जितने टेस्ट हो रहे है?

क्या अमेरिका में ICU में मछली तैरती है?

क्या अमेरिका में डॉक्टर बीच जलजमाव ठेले पर बैठकर अस्पताल जाते है?

क्या अमेरिका में प्रसूता को चारपाई पर अस्पताल लेकर जाते है?

क्या अमेरिका में बिहार की तरह Ambulance नहीं मिलने से प्रतिवर्ष हज़ारों लोगों की मृत्यु होती है?

क्या अमेरिका में ऑपरेशन थियेटर से कुत्ते जोड़ने के लिए रखा हुआ मरीज़ का हाथ उठाकर भाग जाते है?

क्या अमेरिका में अस्पताल में चूहे नवजात शिशु का हाथ काटते है?

क्या अमेरिका में प्रतिवर्ष चमकी बुखार से सैंकड़ों बच्चे मरते है?

क्या अमेरिका में बिहार से कम कुपोषण, शिशु मृत्यु दर और मातृ मृत्यु दर है?

क्या अमेरिका का डॉक्टर-मरीज़ अनुपात बिहार से कम है?