महिला सब इंस्पेक्टर गिरफ्तार, रे’प के आ’रोपी को बचाने के लिए 35 लाख रुपए लिया रि’श्वत

272

Patna: जिस के कंधे पर इंसाफ दिलाने की जिम्मेवारी थी वही बिक चुकी थी, जिसके कारण रेप पीड़िता को इंसाफ नहीं मिल पाया. क्योंकि इंसाफ दिलाने और केस की जांच करने वाली महिला सब इंस्पेक्टर को आरोपी ने 35 लाख रुपए रिश्वत मांगी थी. यह मामला गुजरात के अहमदाबाद की है.

रिश्वत लेने की खबर से पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया. तुरंत आरोपी महिला सब इंस्पेक्टर को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया गया. जिसके बाद तीन दिन के लिए पुलिस ने अपने हिरासत में लिया है. पूछताछ जारी है. आरोपी महिला सब-इंस्पेक्टर श्वेता जड़ेजा अहमदाबाद की महिला पुलिस स्टेशन की इंचार्ज थी.

दो महिलाओं ने अपने ही कंपनी के डायरेक्टर केनल शाह पर रेप का आरोप लगाया था. जिसके बाद मामला दर्ज किया गया था. मामला दर्ज होते ही श्वेता जड़ेजा ने आरोपी से 35 लाख रुपये रिश्वत की मांग कर डाली. कहा कि अगर पैसा नहीं मिला तो आरोपी के खिलाफ वह कड़ी कार्रवाई करेगी. केनल के भाई मामले को सेटल करने के लिए पहुंचा. जिसमें से 15 लाख रुपए श्वेता को मिल चुका था. बाकी पैसा बाद में देना था. लेकिन इस बीच आरोपी के भाई भावेश ने एक शिकायत पुलिस को दे दी थी. जिसकी जांच शुरू हुई तो कई शिकायत सही मिली. जिसके बाद क्राइम ब्रांच ने श्वेता के खिलाफ केस दर्ज कराया.